Join Telegram Join Now
JAC Board App Install Now

Chapter 10: तरंग – प्रकाशिकी

1. सौर प्रकाश में उपस्थित काली रेखाओं को कहा जाता है –

  • फ्रॉन हॉफर रेखाएँ
  • टेल्यूरिक रेखाएँ
  • दोनों
  • इनमें से कोई नहीं
उत्तर
फ्रॉन हॉफर रेखाएँ

2. इन्द्रधनुष प्राकृतिक उदाहरण है।

  • अपवर्तन का
  • परावर्तन का
  • अपवर्तन, परावर्तन एवं वर्ण विक्षेपण
  • इनमें से कोई नहीं
उत्तर
अपवर्तन, परावर्तन एवं वर्ण विक्षेपण

3. प्रकाश तंतु संचार निम्न में से किस घटना पर आधारित है?

  • पूर्ण आन्तरिक परावर्तन
  • प्रकीर्णन
  • परावर्तन
  • व्यतिकरण
उत्तर
पूर्ण आन्तरिक परावर्तन

4. प्रकाश किस प्रकार के कंपनों से बनती है?

  • ईथर-कण
  • वायु-कण
  • विद्युत् और चुम्बकीय क्षेत्र
  • इनमें से कोई नहीं
उत्तर
विद्युत् और चुम्बकीय क्षेत्र

5. निम्नलिखित में किसे प्रकाश के तरंग-सिद्धांत से नहीं समझा जा सकता है?

  • परावर्तन
  • अपवर्तन
  • विवर्तन
  • प्रकाश-विद्युत प्रभाव
उत्तर
प्रकाश-विद्युत प्रभाव

6. द्वितीयक तरंगिकाओं की धारणा के आविष्कारक हैं?

  • फ्रेनेल
  • मैक्सवेल
  • हाइजेन
  • न्यूटन
उत्तर
घटता है

7. विद्युत-चुम्बकीय तरंग को ध्रुवित किया जा सकता है?

  • लेंस द्वारा
  • दर्पण द्वारा
  • पोलैरॉइड
  • प्रिज्म द्वारा
उत्तर
पोलैरॉइड

8. शुद्ध स्पेक्ट्रम प्राप्त किया जाता है?

  • सूक्ष्मदर्शी से
  • स्फेरोमीटर से
  • स्पेक्ट्रोमीटर से
  • प्रिज्म से
उत्तर
स्पेक्ट्रोमीटर से

9. आसमान का रंग नीला दिखने का कारण है –

  • प्रकीर्णन
  • व्यतिकरण
  • ध्रुवण
  • विवर्तन
उत्तर
प्रकीर्णन

10. प्रकाश किरणों के तीखे कोट पर मुड़ने की घटना को कहते हैं –

  • अपवर्तन
  • विवर्तन
  • व्यतिकरण
  • ध्रुवण
उत्तर
विवर्तन

11. यदि एक पतली पारदर्शक सीट को यंग द्वि-स्लिट के सामने रखा जाय तो फ्रिन्ज की चौड़ाई-

  • बढ़ेगी
  • घटेगी
  • अपरिवर्तित रहेगी
  • इनमें से कोई नहीं
उत्तर
अपरिवर्तित रहेगी

12. यंग के प्रयोग में यदि प्रकाश की तरंग-लम्बाई दुगुना कर दिया जाय तो फ्रिन्ज की चौड़ाई-

  • वही रहेगी
  • दुगुनी हो जाएगी
  • आधी हो जाएगी
  • चार गुनी हो जाएगी
उत्तर
दुगुनी हो जाएगी

13. ध्रुवणकोण की स्पर्शज्या पदार्थ के अपवर्तनांक के बराबर होती है। यह नियम कहलाता है-

  • मैलस के नियम
  • ब्रूस्टर के नियम
  • ब्रैग के नियम
  • कॉम्पटन के नियम
उत्तर
 ब्रूस्टर के नियम

14. प्रकाश के तरंग गति-सिद्धान्त के अनुसार, प्रकाश के वर्ण के निर्यायक-

  • आयाम
  • तरंग की चाल
  • आवृत्ति
  • तरंग-लम्बाई
उत्तर
आवृत्ति

15. ‘हाइजेन के द्वितीयक तरंग के सिद्धांत का व्यवहार होता है-

  • तरंगान के ज्यामितीय नये स्थान प्राप्त करने में
  • तरंगों के अध्यारोपण के सिद्धांत की व्याख्या करने में
  • व्यतिकरण घटना की व्याख्या करने में
  • ध्रुवण की व्याख्या करने में
उत्तर
तरंगान के ज्यामितीय नये स्थान प्राप्त करने में

16. साबुन का बुलबुला प्रकाश में रंगीन दिखता है जिसका कारण है-

  • प्रकाश का ध्रुवण
  • प्रकाश का प्रकीर्णन
  • प्रकाश का अपवर्तन
  • प्रकाश का व्यतिकरण
उत्तर
प्रकाश का व्यतिकरण

17. फ्रान्हॉफर विवर्तन में प्रकाश के स्रोत रखे जाते हैं अवरोध से-

  • निश्चित दूरी पर
  • संपर्क में
  • अनन्त दूरी पर
  • इनमें से कोई नहीं
उत्तर
अनन्त दूरी पर

18. सौर स्पेक्ट्रम में बैंगनी रंग से लाल रंग की ओर-

  • विचलन घटता है और अपवर्तनांक भी घटता है
  • विचलन घटता है और अपवर्तनांक बढ़ता है
  • विचलन बढ़ता है और अपवर्तनांक भी बढ़ता है
  • विचलन बढ़ता है और अपवर्तनांक कम होता है
उत्तर
विचलन घटता है और अपवर्तनांक भी घटता है

19. मृगमरीचिका का कारण है-

  • अपवर्तन और पूर्ण आंतरिक परावर्तन
  • विवर्तन
  • प्रकीर्णन
  • व्यतिकरण
उत्तर
अपवर्तन और पूर्ण आंतरिक परावर्तन

20. एक ऐसी परिघटना जो यह प्रदर्शित करती है कि कोई तरंग अनुप्रस्थ है, वह है:

  • प्रकीर्णन
  • विवर्तन
  • व्यतिकरण
  • ध्रुवण
उत्तर
ध्रुवण