Join Telegram Join Now
JAC Board App Install Now

Chapter 4: रासायनिक बल गतिकी

1. A→ B का परिवर्तन द्वितीय कोटि की अभिक्रिया है। यदि A का सान्द्रण दुगुणा कर दिया जाय तो प्रतिक्रिया की दर निम्नलिखित में कौन-सा गुणक से बढ़ता है?

  •  ¼
  •  2
  •  ½
  •  4
उत्तर
   4

2. अधिकांश प्रतिक्रियाओं के लिए ताप गुणक निम्नलिखित में किसके बीच होता है?

  • 1 एवं 3
  • 2 एवं 3
  • 1 एवं 4
  • 2 एवं 4
उत्तर
2 एवं 3

3. जल में H2(g) + CI2(g) =2HCI अभिक्रिया की कोटि है

  •  3
  • 2
  • 1
  • 0
उत्तर
0

4. निम्नलिखित में कौन प्रथम कोटि की अभिक्रिया के वेग-स्थिरांक की इकाई है?

  • time–1
  •  mol litre-1sec-1
  • Litre mol-1sec-1
  •  Litre mol-1 sec
उत्तर
  time–1

5. प्रथम कोटि प्रतिक्रिया के 99.9% पूर्ण होने के लिए कितनी औसत आयु की आवश्यकता होगी?

  •  2.31
  •  6.93
  • 9.23
  • अनंत
उत्तर
 6.93

6. K4[Fe(CN)6] में Fe का प्रसंकरण है।

  •  sp3
  • dsp3
  • d2sp3
  • dsp2
उत्तर
  d2sp3

7. किसी प्रथम कोटि की अभिक्रिया के लिए अर्द्ध जीवन काल स्वतंत्र है।

  • अंतिम सान्द्रण के प्रथम घात का
  •  प्रारंभिक सांद्रता के तृतीय घात का
  • प्रारंभिक सान्द्रता का
  •  अंतिम सान्द्रण का वर्ग का
उत्तर
प्रारंभिक सान्द्रता का

8. किसी अभिक्रिया के लिए सक्रियन ऊर्जा का मान निर्धारित किया जा सकता है

  •  दो विभिन्न तापक्रम पर गति स्थिरांक का मान ज्ञात कर
  • दो विभिन्न तापक्रम पर अभिक्रिया का वेग ज्ञात कर
  • परम ताप पर अभिक्रिया का गति स्थिरांक ज्ञात कर
  • अभिक्रिया का सान्द्रण परिवर्तित कर
उत्तर
   दो विभिन्न तापक्रम पर गति स्थिरांक का मान ज्ञात कर

9. अभिक्रिया 2FeCI2 + SnCl2 → 2FeCl2+ SnCI4 एक उदाहरण है

  • तृतीय कोटि की अभिक्रिया
  •  प्रथम कोटि की अभिक्रिया
  • द्वितीय कोटि की अभिक्रिया
  • इनमें से कोई नहीं
उत्तर
तृतीय कोटि की अभिक्रिया

10. अभिक्रिया A + 2B → C के लिए वेग R = [A] [B]2 द्वारा व्यक्त किया जाता हो तो अभिक्रिया की कोटि है।

  •  3
  • 6
  • 5
  •  7
उत्तर
 3

11. उत्प्रेरक एक वस्तु है जो-

  • उत्पाद के साम्यावस्था सान्द्रण को बढ़ा देता है ।
  • प्रतिक्रिया के साम्यावस्था स्थिरांक को परिवर्तित कर देता है
  • साम्यावस्था प्राप्त करने के समय को कम कर देता है, तो
  • प्रतिक्रिया में ऊर्जा प्रदान करता है
उत्तर
साम्यावस्था प्राप्त करने के समय को कम कर देता है, तो

12. क्षारीय माध्यम में एस्टर का जल अपघटन है-

  • प्रथम कोटि अभिक्रिया जिसकी आणविकता एक है
  • द्वितीय कोटि अभिक्रिया जिसकी आणविकता दो है
  • प्रथम कोटि अभिक्रिया जिसकी आणविकता तीन है
  • द्वितीय कोटि अभिक्रिया जिसकी आणविकता शून्य है
उत्तर
द्वितीय कोटि अभिक्रिया जिसकी आणविकता दो है

13. किसी वस्तु के प्रतिक्रिया करने का दर निर्भर करता है-

  • परमाणु भार
  • समतुल्य भार
  • अणु भार ति
  • सक्रिय भारमिन
उत्तर
  सक्रिय भारमिन

14. द्वितीय कोटि अभिक्रिया के लिए विशिष्ट अभिक्रिया वेग की इकाई है।

  • sec-1
  • mol L-1 sec-1
  • L–2 mol2 sec-1
  • L mol-1 sec-1
उत्तर
L mol-1 sec-1

15. प्रथम कोटि अभिक्रिया के लिए t1/2 का मान होता है-

  • 0.6/k
  • 0.693/k
  • 0.683/k
  • 0.10/k
उत्तर
0.693/k

16. अभिक्रिया की कोटि के लिए कौन-सा कथन असत्य है?

  • अभिक्रिया की कोटि सिर्फ प्रयोग से ही ज्ञात किया जा सकता
  • कोटि अभिकारक के मोलों की संख्या से प्रभावित नहीं होता
  • कोटि हमेशा पूर्ण संख्या होती है
  • वेग समीकरण में सान्द्रण पदों के घातों के योगफल को अभिक्रिया का समग्र कोटि कहते हैं
उत्तर
कोटि हमेशा पूर्ण संख्या होती है

17. अभिक्रिया की दर के बारे में कौन-सा कथन असत्य है ?

  • इसकी प्रयोगात्मक विधि से गणना करते है
  • दर नियम संबंध में सांद्रता की शक्तियों का योग है।
  • अभिक्रिया की दर भिन्नात्मक नहीं हो सकती
  • अभिक्रिया दर और स्टॉइकीयोमीट्री में कोई संबंध होना आवश्यक नहीं है
उत्तर
अभिक्रिया की दर भिन्नात्मक नहीं हो सकती

18. एक अभिक्रिया के वेग स्थिरांक की इकाई अभिक्रिया के दर के इकाई के समान है। अभिक्रिया की कोटि है।

  • द्वितीय कोटि
  • प्रथम कोटि
  • शून्य कोटि
  • तृतीय कोटि
उत्तर
  शून्य कोटि

19. यदि किसी रासायनिक अभिक्रिया के सक्रियन ऊर्जा का मान बहुत ज्यादा है तो सामान्यतः अभिक्रिया ।

  • बहुत तेज होगी
  • बहुत धीमी होगी
  • सामान्य होगी
  • कोई नहीं
उत्तर
बहुत धीमी होगी

20. तापक्रम के बढ़ाने से अभिक्रिया की गति बढ़ती है क्योंकि-

  • अभिकारक अणुओं के टक्कर की संख्या बढ़ती है
  • Mean free path घटता है ।
  • अधिक ऊर्जा वाले टक्कर का संख्या बढ़ता है
  • अधिक ऊर्जा वाले टक्कर का संख्या घटता है
उत्तर
  अधिक ऊर्जा वाले टक्कर का संख्या बढ़ता है